दुष्कर्म के प्रयास में दो को 5-5 वर्ष की कैद


बांदा। घर में घुसकर किशोरी के साथ दुराचार के प्रयास के दो आरोपियों को अदालत ने पास्को एक्ट में 5-5 वर्ष की कैद और 20-20 हजार रुपये जुर्माना किया है। जुर्माना न देने पर 2-2 माह की जेल और होगी। धारा 452 में एक-एक वर्ष की कैद और 5-5 हजार रुपये जुर्माना किया। जुर्माना अदा न करने पर 20-20 दिन जेल में और रहना होगा। शहर के खुटला निवासी अनुसूचित जाति के व्यक्ति के घर में 26 मई 2013 को दोपहर डग्गू प्रजापति पुत्र बाबूलाल और आशीष कुमार उर्फ रामबाबू पुत्र शंकरलाल गुप्ता (छोटी बाजार) तमंचा लेकर घुस गए और 15 वर्षीय पुत्री के तमंचा अड़ाकर दुराचार की कोशिश की। भाई-बहन के शोर मचाने पर पड़ोसी आ गए तो भाग गए। माता-पिता घर में नहीं थे। पुलिस ने धारा 376, 504, 506, एससीएसटी व पास्को एक्ट की रिपोर्ट दर्ज की। दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस ने विवेचना में आशीष कुमार को क्लीनचिट दे दी। अदालत ने उसे तलब कर मुकदमें में शामिल कर दिया। चार्जशीट दाखिल होने के बाद एडीजीसी रामसुफल सिंह ने पांच गवाह पेश किए। एक अन्य फैसले में देहात कोतवाली के एक गांव में 15 जून 2013 की शाम दरवाजे पर खेल रही 10 वर्षीय बालिका को पड़ोसी युवक संदीप पुत्र गेंदा उठा ले गया। शोर मचाने पर पड़ोसी आए तो भाग निकला। बालिका की मां रिपोर्ट दर्ज कराई पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया। एडीजीसी ने पांच गवाह पेश किए। ो अपर सत्र न्यायाधीश ने आरोपी को पास्को एक्ट में 5 वर्ष की कैद व 20 हजार जुर्माना किया। जुर्माना न देने पर एक माह और जेल होगी।