बिहार में 4 लाख 76 हजार छात्र देंगे सीटीईटी परीक्षा


केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा ली जाने वाली राष्ट्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) में बिहार से चार लाख 76 हजार तीन सौ परीक्षार्थी शामिल होंगे। सीटीईटी दिसंबर 2019 से 50 हजार अधिक अभ्यर्थी इस बार सीटीईटी मे शामिल होंगे। कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश भर के कई शहरों में नये केंद्र बनाये गये हैं। सभी जिला मिलाकर 410 परीक्षा केंद्र बनाये जाएंगे। हर केंद्र को परीक्षा के पहले सेनेटाइज किया जाएगा। पटना जिले के सभी केंद्रों को दो ग्रुप में बांट दिया गया है। एक ग्रुप की सिटी कोऑर्डिनेटर डीएवी बीएसईबी के प्राचार्य वीएस ओझा ने बताया कि कोरोना संक्रमण से अभ्यर्थी को बचाव किया जाए, इसके लिए हर केंद्र को सेनेटाइज किया जा रहा है। एक कक्षा में 12 परीक्षार्थी को ही बैठाना है। इसके अलावा सभी परीक्षार्थी को मास्क लगाकर ही केंद्र पर प्रवेश मिलेगा। परीक्षार्थी को अपने साथ प्रवेश पत्र के अलावा पेन और पानी का बोतल लेकर आना है। कोरोना के मद्देनजर केंद्र पर बाहर निकलकर पानी पीने की व्यवस्था नहीं रहेगी। कोरोना के कारण प्रदेश के 20 हजार छात्रों ने परीक्षा केंद्र अपने गृह जिला में लिया है।

पटना में 92 केंद्र   

- प्रथम पत्र में छात्र : 41658 

- द्वितीय पत्र में छात्र :  31338 

- प्रथम पाली :  9.30 से 12 बजे 

- प्रवेश : 7.30 से 9.30 बजे तक 

- द्वितीय पाली: दो से 4.30 बजे 

- प्रवेश : 12 बजे से दो बजे तक


ध्यान रखें परीक्षार्थी

- प्रवेशपत्र डाउनलोड करके लायें 

- एक फोटो और पहचान प्रमाण पत्र 

- काला और नीला बॉल पेन 

- पारदर्शी पानी का बोतल 

- 50 मिली लीटर का सेनेटाइजर साथ में लाएं