कोविड-19 वैक्सीनेशन निर्बाध चलाया जाये - अमित मोहन प्रसाद

31 जनवरी, 2021 से शुरू होगा पल्स पोलियों अभियान

टीकाकरण तैयारियों को लेकर देर शाम तक चली स्टेट टास्क फोर्स की बैठक

लखनऊ : दिनांकः प्रदेश के चिकित्सा, स्वास्थय, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने निर्देश दिया है कि राज्य में कोविड-19 का वैक्सीनेशन निर्बाध चलाया जाये। उन्होंने कहा अन्य टीकाकरण की तिथियों का निर्धारण करते समय कोविड टीकाकरण को शीर्ष प्राथमिकता पर रखा जाये। हेल्थ केयर वर्कर्स के वैक्सीनेशन के तुरन्त बाद ही फ्रंट लाइन वर्कर्स का वैक्सीनेशन किया जाना है, इसलिए उनके वैक्सीनेशन की तैयारियाँ अभी से पूर्ण कर ली जाए।

ये निर्देश अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने यहाँ लाल बहादूर शास्त्री भवन (एनेक्सी) स्थित सभाकक्ष में 28 जनवरी, 2021 को देर शाम तक चली स्टेट टास्क फोर्स टीकाकरण की बैठक में दिए। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा की हेल्थ केयर वर्कर्स के वैक्सीनेशन को पूर्ण करने से पहले ही फ्रंट लाइन वर्कर्स के टीकाकरण के सत्रों और टीकाकरण के लिए स्थल चयन का कार्य पूर्ण कर लिया जाये। उन्होंने कहा फ्रंट लाइन वर्कर्स के टीकाकरण के लिए स्थल चयन में उनके कार्यस्थल से निकटतम स्थानों को वरीयता दी जाये जिससे उन्हें टीकाकरण हेतु आने में असुविधा न हो। उन्होंने कहा अभी चलाये जा रहे कोविड वैक्सीनेशन के सत्रों के लिए प्रदेश के पास पर्याप्त वैक्सीन उपलब्ध है। हेल्थ केयर वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स के टीकाकरण के बाद 50 से ऊपर की आयु वाले नागरिकों का टीकाकरण किया जाना है, जिसे नए सिरे से योजनाबद्ध तरीके से चलाया जाना सुनिश्चित किया जायेगा।

अपर मुख्य सचिव ने बैठक में 31 जनवरी, 2021 से प्रारम्भ हो रहे प्रदेश व्यापी पल्स पोलियों अभियान को तैयारियों के साथ-साथ अन्य टीकाकरण कार्यक्रमों की जानकारी भी ली। उन्होंने निर्देश दिया कि अधिकारी प्रति सप्ताह बुधवार को प्रदेश स्तर पर वैक्सीनेशन की तैयारियों को लेकर जिलेवार सत्रों के संचालन और व्यवस्थाओं को पूर्ण करवाने के लिए वीडियो कान्फ्रेंसिंग करें।

बैठक में प्रदेश के टीकाकरण अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि 16 और 22 जनवरी, 2021 को कोविड की पहली डोज के लिए आयोजित टीकाकरण सत्रों में क्रमशः 1,854 तथा 1,854 सत्र आयोजित हुए जो कि अपेक्षित लक्ष्य का 100 प्रतिशत है। इन सत्रों में 16 जनवरी को 1,23,761 तथा 22 जनवरी को 1,92,985, हेल्थ केयर वर्कर्स को कवर किया गया। 28 जनवरी, 2021 को प्रदेश के समस्त जनपदों में 2305 सत्रों पर कोविड टीकाकरण कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें 2,57,781 हेल्थ केयर वर्कर्स का टीकाकरण किया जाना था। देर शाम तक लक्ष्य के सापेक्ष 1,71,198, वर्कर्स के टीकाकरण सम्पन्न हो जाने की सूचना प्राप्त हुई।

आज दिनांक 29 जनवरी, 2021 को प्रदेश में 2100 टीकाकरण सत्र आयोजित हो रहे हैं, जिनमें 2.10 लाख स्वास्थय कर्मियों का टीकाकरण किए जाने का लक्ष्य रखा गया है। आज प्रतिरक्षित स्वास्थ कर्मियों की दूसरी खुराक 25 फरवरी, 2021 को दी जायेगी। कोविड टीकाकरण के आगामी सत्र 04 एवं 05 फरवरी, 2021 को प्रदेश के समस्त जनपदों में आयोजित होगें।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थय अमित मोहन प्रसाद की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में प्रमुख सचिव चिकित्सा आलोक कुमार, महानिदेशक परिवार कल्याण राकेश दुबे, महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ देवेन्द्र नेगी, समस्त सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी डब्ल्यूू.एच.ओ. तथा यूनीसेफ के प्रतिनिधि एवं रोटरी क्लब के पदाधिकारी उपस्थित थे।