अभियान में टीमों ने खोजे 147 टीबी रोगी


उरई/जालौन। टीबी हारेगा-देश जीतेगा अभियान के तहत सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान के तीनों चरण पूरे हो गए हैं। इस अभियान में कुल 147 नए टीबी रोगियों की पहचान हुई है। सभी रोगियों का निक्षय पोर्टल पर पंजीकरण करने के बाद उनका उपचार भी शुरू कर दिया गया है। जिले में कुल 2484 मरीजों का इलाज जारी है। जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. सु्ग्रीव बाबू ने बताया टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान 26 दिसंबर से तीन चरणों में शुरू हुआ था। इसमें पहले चरण में 26 दिसंबर से एक जनवरी तक मदरसा, वृद्धाश्रम, शेल्टर होम, जिला कारागार आदि में अभियान चलाया गया था। इसमें 1152 लोगों की स्क्रीनिंग की गयी, जिसमें 48 संभावित क्षय रोगियों की जांच की गई। इसमें एक व्यक्ति क्षय रोगी पाया गया। जबकि दूसरे चरण में 2 जनवरी से 12 जनवरी तक चले अभियान में जिले की कुल 20 फीसदी आबादी की स्क्रीनिंग की गई। कुल 3,25,788 लोगों की स्क्रीनिंग कर 1335 लोगों की बलगम व एक्सरे की जाँच कराई गई, इसमें 89 नए क्षय रोगी खोजे गए, जबकि तीसरा चरण 13 जनवरी से 25 जनवरी तक चला। इसमें प्राइवेट चिकित्सकों, मेडिकल स्टोरों के माध्यम से रोगी खोजने का काम किया गया। जिसमें स्क्रीनिंग के बाद 57 नए रोगी खोजे गए। तीनों चरणों में चले अभियान के बाद कुल 147 नए टीबी रोगियों की पहचान की गई है। उन्होंने बताया कि जिले में इस समय 2484 मरीजों का इलाज चल रहा है। जिसमें 1682 का सरकारी अस्पतालों और 802 का प्राइवेट चिकित्सकों के माध्यम से इलाज हो रहा है।