मुख्यमंत्री ने हेल्थ वर्कर्स के कोविड वैक्सीनेशन कार्य को 05 फरवरी तक पूरा करने के दिए निर्देश


लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में हेल्थ वर्कर्स के कोविड वैक्सीनेशन कार्य को 05 फरवरी, 2021 तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आज भी प्रदेश में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का टीकाकरण किया जा रहा है। इस कार्य को पूरी गति से संचालित करते हुए आगामी 04 व 05 फरवरी, 2021 को शेष हेल्थ वर्कर्स का टीकाकरण पूर्ण किया जाए। मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हेल्थ वर्कर्स के टीकाकरण के पश्चात कोरोना फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण किया जाना है। इसे ध्यान में रखते हुए सभी तैयारियां समय से पूरी की जाएं। उन्होंने कोविड-19 के वैक्सीनेशन कार्य को भारत सरकार के दिशा-निर्देशों एवं क्रम के अनुसार संचालित करने के निर्देश दिए। बैठक में अवगत कराया गया कि प्रदेश में अब तक 02 लाख 95 हजार हेल्थ वर्कर्स को वैक्सीनेट किया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दर में उल्लेखनीय गिरावट दर्ज किए जाने के बावजूद अभी भी प्रत्येक स्तर पर पूरी सजगता बरतना आवश्यक है। इसलिए लोगों को कोविड-19 से बचाव के बारे में निरन्तर जागरूक किया जाए। जनता को मास्क के अनिवार्य रूप से उपयोग तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की जानकारी दी जाए। जागरूकता सृजन के लिए प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का उपयोग जारी रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 संक्रमण की चेन को तोड़ने में टेस्टिंग की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसके दृष्टिगत प्रदेश में कोरोना का टेस्टिंग कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग, सर्विलांस सिस्टम तथा इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को प्रभावी रखा जाए। उन्होंने कोविड चिकित्सालयों की व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाए रखने के निर्देश भी दिए। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, सचिव मुख्य मंत्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।