PM मोदी ने किया भारत की पहली ड्राइवर लेस मेट्रो का उद्घाटन


नई दिल्ली: देश में पहली ड्राइवरलेस मेट्रो ट्रेन का उद्घाटन हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को दिल्ली मेट्रो की ‘मेजेंटा लाइन' पर भारत की पहली ड्राइवर लेस मेट्रो का उद्घाटन कर दिया है. PM ने इस मौके पर कहा कि 'अभी मुझे बिना ड्राइवर के चलनी वाले मेट्रो रेल का उद्घाटन करने का अवसर मिला है. आज इस उपलब्धि के साथ ही हमारा देश दुनिया के उन चुनिंदा देशों में शामिल हो गया है जहां इस तरह की सुविधा है.' उद्घाटन के अगले दिन यानी मंगलवार से इस रूट पर यह मेट्रो सर्विस शुरू हो जाएगी.

बता दें कि दिल्ली मेट्रो की 37 किलोमीटर लंबी मजेंटा लाइन पर जनकपुरी पश्चिम से बोटेनिकल गार्डन के बीच चालक रहित मेट्रो सेवा शुरू होने के बाद 57 किलोमीटर लंबी पिंक लाइन पर मजलिस पार्क और शिव विहार के बीच 2021 के मध्य तक चालक रहित मेट्रो सेवा की शुरुआत की जाएगी.

पीएम ने वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम में कहा कि '2014 में सिर्फ 5 शहरों में मेट्रो रेल थी. आज 18 शहरों में मेट्रो रेल की सेवा है. वर्ष 2025 तक हम इसे 25 से ज्यादा शहरों तक विस्तार देने वाले हैं. ये सिर्फ आंकड़े नहीं हैं ये करोड़ों भारतीयों के जीवन में आ रही Ease of Living के प्रमाण हैं. ये सिर्फ ईंट पत्थर, कंक्रीट और लोहे से बने इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं हैं बल्कि देश के नागरिकों, देश के मिडिल क्लास की आकांक्षा पूरा होने के साक्ष्य है.'
पीएम ने इस दौरान मेक इन इंडिया को भी बढ़ावा दिया और बताया कि मेट्रो सर्विसेज़ के लिए यह इनीशिएटिव कितना अहम है.पीएम ने इस दौरान ट्रैवल और शॉपिंग सहित कई चीजों के लिए कॉमन मोबिलिटी कार्ड की शुरुआत भी की. उन्होंने कहा कि 'आधुनिकीकरण के लिए एक ही तरह के मानक और सुविधाएं उपलब्ध कराना बहुत जरूरी है. राष्ट्रीय स्तर पर कॉमन मोबिलिटी कार्ड इसी दिशा में एक बड़ा कदम है. आप जहां कहीं से भी यात्रा करें, आप जिस भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट से यात्रा करें, ये एक कार्ड आपको इंटीग्रेटेड एक्सेस देगा.'