औरतों के कंसीव न कर पाने वजह यह समस्या भी, मां नहीं बनने देगी लक्षणों की अनदेखी


मां बनना दुनिया का सबसे खूबसूरत अहसास है लेकिन कई बार महिलाएं कंसीव तो कर लेती हैं लेकिन मां नहीं बन पाती। इसका एक कारण फैलोपियन ट्यूब में रुकावट या खराबी भी हो सकती है, जो बांझपन का कारण भी बन सकती है। फैलोपियन ट्यूब यूट्रस के दोनों ओर 2 पतली ट्यूब होती हैं, जो एक विकसित अंडे को अंडाशय से गर्भाशय तक लाने का काम करती हैं, फर्टिलाइजेशन प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। मगर, कई बार फैलोपियन ट्यूब के बंद हो जाती है और अंडे गर्भाशय तक नहीं पहुंच पाते जिसके कारण गर्भधारण नहीं हो पाता।

फैलोपियन ट्यूब में रुकावट के कारण
. यूट्रस या आस-पास के एरिया में संक्रमण
. बार-बार होने वाले जख्म
. पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज
. एसटीडी (यौन संचारित रोग)
. एंडोमेट्रिओसिस
. फैलोपियन ट्यूब से संबंधित कोई सर्जरी
. अपेंडिक्स या उसकी सर्जरी
. हॉर्मोन में गड़बड़ी
बता दें कि फैलोपियन ट्यूब बंद होने के गर्भधारण के समय कोई लक्षण दिखाई नहीं देते।
फैलोपियन ट्यूब में रुकावट के लक्षण
. गर्भधारण करने में बार-बार समस्या होना।
. पेल्विक व पेट में लगातार दर्द
. पीरियड्स में असहनीय दर्द व हैवी ब्लीडिंग
कभी-कभी फैलोपियन ट्यूब में रुकावट के कारण फर्टिलाइज्ड एग कहीं फंस जाता है जिससे एक्टोपिक प्रेग्नेंसी कहते हैं। ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाकर चेकअप करवाना चाहिए।
फैलोपियन ट्यूब बंद होने के जोखिम कारक
. अगर गर्भपात या मिसकैरेज के कारण पहले कभी यूटीआई हुआ हो।
. कभी पहले हुई पेट की कोई भी सर्जरी।
. अगर एक्टोपिक प्रेगनेंसी हुई हो।
. पहले कभी फैलोपियन ट्यूब से सम्बंधित कोई सर्जरी हुई हो।
फैलोपियन ट्यूब में रुकावट का इलाज मौजूद है लेकिन यह महिला की स्थिति पर निर्भर करता है। डॉक्टर इस समस्या को दूर करने के लिए फर्टिलाइजेशन की दवाएं भी देते हैं और अगर स्थति गंभीर हो तो सर्जरी भी की जाती है। इसके अलाव कुछ चीजों का ध्यान रखकर आप इस समस्या से बच सकती हैं जैसे...
. शराब व धूम्रपान से जितना हो सके दूर रहें।
. अधिक तनाव लेने से बचें और इसके लिए म्यूजिक, योग का सहारा लें।
. योग करें क्योंकि उससे प्रजनन अंगों का स्वास्थ्य सुधरता है।
. डाइट में विटामिन सी, ताजा फल, हरी पत्तेदार सब्जियां और नारियल तेल शामिल करें और बाहर का खाने से बचें।
क्या मां बन पाना है संभव?
फैलोपियन ट्यूब में रुकावट का निदान करना मुश्किल होता है क्योंकि ट्यूब खुलती व बंद होती रहती हैं। ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता कि ट्यूब में रुकावट है या नहीं। हालांकि इसके कारण गर्भवती होने में समस्या हो सकती है लेकिन मां बनना नामुमकिन नहीं है। अगर आप सर्जरी के बाद भी मां नहीं बन पाती तो आईवीएफ जैसी टेक्नॉलजी की मदद ले सकती हैं।