महिला ने फांसी लगाकर दी जान


उरई/जालौन। मजदूर की पत्नी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि घर के हालात आर्थिक तंगहाली के थे। पति ने उसे मानसिक रूप से अस्वस्थ बताया है। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। स्थानीय उत्तर थोक निवासी बसंती देवी (48) पत्नी लक्ष्मी प्रसाद यहां तालाब किनारे बने अपने कच्चे मकान में पति और पांच बच्चों के साथ रहती थी। सोमवार की रात बसंती ने मकान के पीछे बने कच्चे कमरे में दरवाजा बंदकर दुपट्टे से फांसी लगा ली। सुबह घर के पीछे का कमरा बंद होने पर पति लक्ष्मी खपरैल तोड़कर अंदर दाखिल हुआ तो बसंती का शव फंदे पर लटका देखा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को फंदे से नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पति का कहना है कि मृतका मानसिक रूप से बीमार थी। मृतका के तीन बेटे व दो बेटियां हैं। पति मजदूरी करता है। थाना प्रभारी रामाश्रय सिंह ने कहा कि घटना आत्महत्या की है।