सेहत के लिए वरदान है सोंठ, अनेक बीमारियों से मिलेगी राहत


अदरक को सूखा कर तैयार पाउडर को सोंठ कहा जाता है। इसकी तासीर गर्म होने से सर्दियों में इसका सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन ए, सी, फैटी एसिड, पोटेशियम, जिंक, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-वायरल आदि गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में इसे डेली डाइट में शामिल करने से इम्यूनिटी बढ़ने के साथ मौसमी बीमारियों से राहत मिलती है। कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल रहने के साथ माइग्रेन पेन से भी आराम रहता है। तो चलिए जानते हैं इससे मिलने वाले फायदों के बारे में...

कोलेस्ट्रॉल करे कंट्रोल
नियमित रूप से सोंठ का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण में रहता है। ऐसे में दिल स्वस्थ रहने के साथ इससे जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है।
शुगर करे कंट्रोल
औषधीय व पोषक तत्वों से भरपूर सोंठ का सेवन करने से ब्लड शुगर भी कंट्रोल में रहती है। ऐसे में खासतौर पर डायबिटीज के मरीजों को इसे अपने डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।
माइग्रेन पेन से दिलाए राहत
सर्दियों में ठंडी हवा सिर पर पड़ने से असहनीय दर्द होने लगता है। ऐसे में सोंठ का सेवन करने से सिरदर्द व माइग्रेन पेन से आराम मिलता है। इसमें मौजूद विटामिन, आयरन आदि पोषक तत्व शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर करने के साथ दिमाग में सही मात्रा में ऑक्सीडन पहुंचाने में मदद करते हैं। एक रिसर्च के अनुसार भी डेली डाइट में सोंठ को शामिल करने से अल्जाइमर का खतरा कम होने में मदद मिलती है।
स्ट्रांग इम्यूनिटी
चुटकीभर सोंठ को गुनगुने दूध या पानी में मिलाकर पीने से इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलती है। ऐसे में मौसमी सर्दी, खांसी, जुकाम आदि परेशानियों से बचाव रहता है। इसके अलावा इसे शहद के साथ भी खाया जा सकता है।
पेनकिलर का करें काम
अध्ययन के अनुसार, सूखी अदरक यानी सोंठ में औषधीय गुण होते हैं। ऐसे में इससे तैयार चाय नेचुरल पेनकिलर का काम करती है। इसके सेवन से सिरदर्द व मासिक धर्म में पेट दर्द से आराम मिलता है।
बेहतर पाचन तंत्र
सोंठ का सेवन करने से पाचन शक्ति बढ़ती है। साथ ही पेट दर्द, एसिडिटी, अपच आदि की परेशानी से राहत मिलती है। इसके अलावा इससे मेटाबॉलिक रेट बढ़ता है। ऐसे में वजन भी कंट्रोल में रहता है। आप इसे चाय या दूध में मिलाकर पी सकते हैं।
प्रेगनेंसी में फायदेमंद
सोंठ की तासीर गर्म होती है। ऐसे में गर्भवती महिलाओं को इससे तैयार लड्डू का सेवन करना फायदेमंद होता है। इससे पाचन तंत्र मजबूत होने के साथ मॉर्निंग सिकनेस, उल्टी व घबराहट होने की परेशानी से राहत मिलती है। ध्यान दें, अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से सीने में जलन, पाचन तंत्र कमजोर हो सकता है। ऐसे में डायरिया की शिकायत का सामना करना पड़ सकता है।

posted by -दीपिका पाठक