नन्ही कली (भ्रुणहत्या)


नन्ही कली की तमन्ना है

मैं भी फूलो की तरह खिलू
चारो तरफ खुशबू फैलाऊं
रंग बिरंगी तितलियों की तरह
इठलाऊं इतराऊ
फूलो के रंगों चुराऊ
कोयल की तरह मधुर राग सुनाऊं
मोरनी की तरह पखं फैलाकर झूम झूम नाचूं
आसमान मे इन्द्रधनुषिय रंगों की छटा बिखेरू
सारा समा हो जाए सुहाना
मुझे मत तोड़ो
मुझे खिलने दो
मुझे जन्म लेने दो

प्रियंका पांडेय त्रिपाठी