किसानों को एमएसपी का पूरा लाभ दिलाना राज्य सरकार की मंशा: योगी


लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि किसानों को एम0एस0पी0 का पूरा लाभ दिलाना राज्य सरकार की मंशा है। इसके दृष्टिगत उन्होंने धान खरीद कार्य को तेजी से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। धान क्रय केन्द्रों को पूरी तरह सक्रिय रखने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि किसानों से त्वरित खरीद की जाए। उन्होंने धान क्रय केन्द्रों पर आवश्यकतानुसार अतिरिक्त काटों की व्यवस्था किए जाने के निर्देश भी दिए हैं। मुख्यमंत्री आज यहां लोक भवन में आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार दुग्ध उत्पादन के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके लिए अधिक से अधिक राजस्व ग्रामों में दुग्ध समितियों के गठन की कार्रवाई की जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वयं सहायता समूहों का गठन करते हुए इन्हें डेयरी परियोजनाओं से जोड़ा जाए। पी0सी0डी0एफ0 की डेयरियां के सुदृढ़ीकरण के लिए प्रभावी कार्यवाही की जाए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों को गो-आश्रय स्थलों का नियमित अनुश्रवण करते हुए इनकी व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने वरासत अभियान को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि वरासत अभियान के दौरान प्रदेश के समस्त ग्रामों में समयबद्ध ढंग से कार्यवाही करते हुए निर्विवाद उत्तराधिकार को खतौनियों में दर्ज किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रयागराज में आगामी माघ मेले की सभी तैयारियां गुणवत्तापूर्ण ढंग से की जाएं। मेले में आने वाले श्रद्धालुओं विशेषकर कल्पवासियों तथा साधु-संतों को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने माघ मेला परिसर में कोविड-19 के प्रोटोकाॅल के अनुरूप सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि मेले के दौरान स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन के विशेष प्रबन्ध किए जाएं। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अतुल गर्ग, मुख्य सचिव आर0के0 तिवारी, कृषि उत्पादन आयुक्त आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव मुख्यमंत्री एस0पी0 गोयल, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य आलोक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन भुवनेश कुमार, सूचना निदेशक शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।