सुशांत केस में सीबीआई जांच पर महाराष्ट्र गृहमंत्री ने उठाया सवाल, कहा- जल्द करें खुलासा


सुशांत सिंह राजपूत मामले में सीबीआई की जांच का नतीजा अब तक ना आने पर महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने सवाल उठाया है। महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में सीबीआई की जांच से असंतुष्ट हैं। उनका कहना है कि 5 महीने से ज्यादा वक्त बीत गया है लेकिन सीबीआई की तरफ से कोई नतीजा नहीं आया। उन्होंने जांच एजेंसी से जल्द से जल्द इस मामले का खुलासा करने की अपील की है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत को 6 महीने से ज्यादा का वक्त गुजर चुका है। इस मामले की जांच सीबीआई के हाथ में है। महाराष्ट्र के होम मिनिस्टर अनिल देशमुख का कहना है, सीबीआई 5 महीने से ज्यादा वक्त से सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच कर रहे है लेकिन अब तक यह साफ नहीं हो पाया कि उनका मर्डर हुआ था या आत्महत्या से जान गई। अनिल देशमुख ने सीबीआई से अपील की है कि जल्द से जल्द इस मामले का खुलासा करें। श्वेता ने एक वीडियो क्लिप भी पोस्ट की है। यह उनके वेडिंग रिसेप्शन की है। उन्होंने लिखा है, भाई ने मुझे वेडिंग रिसेप्शन में गले लगाया था। मुझे याद है कि रिसेप्शन से एक दिन पहले कैसे हम एक-दूसरे के गले लगकर रोए थे। काश मैं उस वक्त में लौट पाऊं। सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच पहले मुंबई पुलिस कर रही थी। इनवेस्टिगेशन पर सवाल उठाए जाने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने मैटर सीबीआई के हवाले कर दिया था। कोर्ट के इस फैसले के बाद अनिल देशमुख ने कहा था, सुप्रीम कोर्ट ने अपने जजमेंट में साफ लिखा है कि मुंबई पुलिस ने जो जांच की, वह बेहद प्रफेशनल तरीके से की है। कोर्ट ने माना है कि मुंबई पुलिस की जांच बहुत सही तरीके से हुई। हालांकि उन्होंने कोर्ट के फैसले के जरिए केंद्र सरकार पर भी निशाना साधा और तंज कसते हुए कहा, श्बाबा साहेब आंबेडकर के संविधान में जो फेडरल स्ट्रक्चर (संघीय ढांचे) यानी केंद्र-राज्य के संबंध के बारे में लिखा है उस पर भी चिंतकों और संविधान एक्सपर्ट्स को विचार करने की जरूरत है।