ईडी के एक्शन पर महाराष्ट्र में सियासी दंगल, पत्नी को नोटिस पर भड़के संजय राउत, बोले- मत लो पंगा, मैं नंगा आदमी हूं


मुबंई : शवसेना सांसद संजय राउत ने पत्नी के नाम ईडी द्वारा भेजे गये नोटिस के बाद केंद्र सरकार और महाराष्ट्र बीजेपी के नेताओं पर जमकर निशाना साधा है.शिवसेना नेता संजय राउत ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वह इस तरह की चीजों से डरने वाले नहीं हैं. राउत ने कहा कि हम कानून का पालन करने वाले लोग हैं. मुझसे पंगा मत लेना, मैं नंगा आदमी हूं। संजय राउत ने सोमवार दोपहर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि उनकी पत्नी वर्षा राउत के नाम सियासी विरोध की वजह से समन भेज गया है. आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि ईडी केंद्र सरकार के इशारे पर काम कर रही है. संजय राउत ने कहा की राजनीति में आमने-सामने की लड़ाई होनी चाहिए. परिवार को बीच में नहीं लाना चाहिए। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि वे भाजपा को उसकी ही भाषा में जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि ईडी की ओर से की गयी यह कार्रवाई राजनीति से प्रेरित है. ईडी ने 10 साल पुराना केस निकाला है. हम मिडल क्लास के लोग है. मेरी पत्नी टीचर है. पत्नी से दोस्त से 50 लाख का कर्ज लिया था. राज्यसभा के हलफनामे में इसका जिक्र है. इनकम टैक्स में भी यह दिखाया गया है. यह छिपाई हुई बात नहीं है. इससे ईडी और बीजेपी को क्या तकलीफ है। संजय राउत ने कहा कि इस देश में भारतीय जनता पार्टी के लिए बड़े-बड़े सूरमा बैठे हैं. अगर मैं उनके परिवार तक पहुंचा तो उन्हें देश छोड़कर भागना होगा. मुझसे पंगा मत लेना. आप मुझसे पंगा मत लेना. मैं नंगा आदमी हूं. मैं बाला साहेब ठाकरे का शिव सैनिक हूं। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि पिछले एक साल में शरद पवार, एकनाथ खडसे, प्रताप सार्णिक को नोटिस मिला है और मेरे नाम की चर्चा हो रही है. इन सभी लोगों की महाराष्ट्र में सरकार बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका रही है. ये केवल कागज के टुकड़े हैं और कुछ नहीं। संजय राउत ने कहा कि घर की महिलाओं को निशाना बनाना कायरता की निशानी है. हम किसी से डरने वाले नहीं है और उसी तरह से जवाब देंगे. ईडी को कुछ कागजात चाहिए थे, जिन्हें हमने समय पर दे दिया है। शिवसेना के नेता ने कहा कि मेरे पास एक साल से भाजपा के परिवार से कुछ लोग आ रहे हैं और वो बार-बार मुझे ये कहने की कोशिश करते हैं कि ये सरकार हम किसी भी हालत में गिराने वाले हैं. हमारे पास केंद्र की सत्ता है और ईडी, सीबीआई और इनकम टैक्स जैसी केंद्रीय एजेंसियां है।